14 October: World Standards Day in Hindi

14 October: World Standards Day in Hindi

सम्पूर्ण विश्व मे प्रत्येक वर्ष 14 अक्टूबर को आईईसी(IEC), आईटीयू(ITU) और आईएसओ (ISO)के सदस्य देशों में विश्व मानक दिवस (World Standards Day ) के रूप में मनाया जाता है। इस दिवस को मनाने का प्रमुख उद्देश्य अंतर्राष्ट्रीय मानकों के रूप में प्रकाशित स्वैच्छिक तकनीकी सहमतियाँ(Voluntary technical consents) बनाने वाले अनेकानेक विशेषज्ञों के पारस्परिक तथा सहयोगपूर्ण प्रयासों को सम्मान देना है।
विश्व मानक दिवस (World Standards Day ) के शुभ अवसर पर वैश्विक स्तर एक पोस्टर प्रतियोगिता (Poster contest)का आयोजन किया जाता है। इस आयोजित पोस्टर प्रतियोगिता मे सम्मिलित पोस्टर्स में से विश्व मानक दिवस (World Standards Day ) को सबसे सटीक तरीके से चित्रित करने वाले पोस्टर का चुनाव किया जाता है।

वर्ष 2001 में वर्ल्ड स्टैंडर्ड कॉरपोरेशन  (World Standards Corporation )की स्थापना ‘आईईसी (अंतर्राष्ट्रीय विद्युततकनीकी आयोग), आईएसओ (अंतर्राष्ट्रीय मानकीकरण संगठन) और आईटीयू (अंतर्राष्ट्रीय दूरसंचार संघ) के स्वैच्छिक सहमति आधारित अंतर्राष्ट्रीय मानकों को मजबूत और विकसित बनाने के लिए की गई।

Definition of standard

किसी मानक (Standard)का सम्बन्ध ऐसे दस्तावेज से है जो अपेक्षताओं, विशिष्टताओं, मार्गनिर्देशों अथवा विशेषताओं की जानकारी(DATA) उपलब्ध कराता है जिसे निरंतर यह सुनिश्चित करने के उपयोग किया जा सकता है कि कोई सामग्री, उत्पाद, प्रक्रिया अथवा सेवा(Material, product, process or service) अपने उद्देश्य के लिए परिपूर्ण है।

History

विश्व मानक दिवस (World Standards Day )  वर्ष 1970 में पहली बार आयोजित किया गया था ।विश्व मानक दिवस (World Standards Day )  को वर्ष के किस दिन आयोजित किया जाये इस तिथि का निर्धारण वर्ष 1946 में किया गया। लंदन में विभिन्न देशों के 25 प्रतिनिधियों ने मिलकर मानकीकरण में सहायता के लिए एक अंतर्राष्ट्रीय संगठन बनाने पर सहमति जाहिर किया।

Objective of World Standards Day

विश्व मानक दिवस (World Standards Day )  मनाने का उद्देश्य मुख्य रूप से वैश्विक अर्थव्यवस्थाओं के लिए मानकीकरण की आवश्यकता के प्रति जागरूकता फैलाना है।

Indian Standards Bureau

भारतीय मानक ब्यूरोIndian Standards Bureau भारत में राष्ट्रीय मानक निर्धारित करने वाली संस्था है। पहले इसका नाम ‘ भारतीय मानक संस्थान ‘Indian Standards Institute था। भारतीय मानक ब्यूरो की स्थापना सन् 1947 में हुई थी।

Role of Bureau of Indian Standards

भारतीय मानक ब्यूरोIndian Standards Bureau, किसी वस्तु अथवा प्रक्रिया के संबंध में भारतीय मानकों का सृजन करता है तथा सृजित किए गए मानकों को, जैसा भी आवश्यक हों, उपभोक्ताओं, विनिर्माताओं, सरकार और नियामक निकायों, प्रौद्योगिकीविद्, वैज्ञानिकों और परीक्षण प्रयोगशालाओं को शामिल करके एतदद्वारा गठित समितियों के माध्यम से विचार-विमर्श की एक प्रक्रिया द्वारा सुधार, संशोधित तथा रद्द करता है।

Click here to other general Knowledge Questions:

Categories

 

Recent Posts

error: Bhai Bahut Mehnat Lagi Hai. Padhna Free hain?