Important information about Ashoka Chakra in Hindi

Important information about Ashoka Chakra in Hindi

आज हम educationmasters आपको हमारे राष्ट्रीय ध्वज का मध्य विधमान अशोक चक्र मे उपस्थित 24 तीलियों के विषय मे अवगत करना चाहते हैं। कई प्रतियोगी परीक्षाओं मे इससे सम्बंधित प्रश्न पूछ लिए जाते है आशा है हमारा यह लेख आपको अवश्य पसंद आएगा।

Important information about Ashoka Chakra in Hindi

अशोक चक्र हमारे देश का मान बढ़ाता है। यह एक कर्तव्य के पहिए के समान हमारा मार्ग दर्शन करता है। अशोक चक्र के मध्य उपस्थित 24 तीलियाँ एक दिन के 24 घंटो सूचक है। यह तीलियाँ 24 घंटो के अतिरिक्त मनुष्य के 24 गुणों को भी प्रदर्शित करती है। इन तीलियों के कुछ अर्थ हैं जो निम्नांकित है –

प्रथम तीली हमे सिखाती है संयम अर्थात संयमित जीवन जीने की प्रेरणा देती है।
दूसरी तीली हमे सिखाती है आरोग्य अर्थात निरोगी जीवन जीने के लिए प्रेरित करती है।
तीसरी तीली हमे सिखाती है शांति अर्थात देश में शांति व्यवस्था कायम रखने की सलाह देती है।
चौथी तीली हमे सिखाती है त्याग अर्थात देश एवं समाज के लिए त्याग की भावना का विकास करती है
पांचवीं तीली हमे सिखाती है शील अर्थात व्यक्तिगत स्वभाव में शीलता की शिक्षा देती है
छठवीं तीली हमे सिखाती है सेवा अर्थात देश एवं समाज की सेवा की शिक्षा देती है।
सातवीं तीली हमे सिखाती है क्षमा अर्थात मनुष्य एवं प्राणियों के प्रति क्षमा की भावना देती है।
आठवीं तीली हमे सिखाती है प्रेम अर्थात देश एवं समाज के प्रति प्रेम की भावना की शिक्षा देती है।
नौवीं तीली हमे सिखाती है मैत्री अर्थात समाज में मैत्री की भावनाकी शिक्षा देती है।
दसवीं तीली हमे सिखाती है बन्धुत्व अर्थात देश प्रेम एवं बंधुत्व को बढ़ावा देना सिखाती है।
ग्यारहवीं तीली हमे सिखाती है संगठन अर्थात राष्ट्र की एकता और अखंडता को मजबूत रखना सिखाती है।
बारहवीं तीली हमे सिखाती है कल्याण अर्थात देश व समाज के लिये कल्याणकारी कार्यों में भाग लेना बतलाती है।
तेरहवीं तीली हमे सिखाती है समृद्धि अर्थात देश एवं समाज की समृद्धि में योगदान देना सिखाती है।
चौदहवीं तीली हमे सिखाती है उद्योग अर्थात देश की औद्योगिक प्रगति में सहायता करना सिखाती है।
पंद्रहवीं तीली हमे सिखाती है सुरक्षा अर्थात देश की सुरक्षा के लिए सदैव तैयार रहना सिखाती है।
सौलहवीं तीली हमे सिखाती है नियम अर्थात निजी जिंदगी में नियम संयम से बर्ताव करना सिखाती है।
सत्रहवीं तीली हमे सिखाती है समता अर्थात समता मूलक समाज की स्थापना करना सिखाती है।
अठारहवी तीली हमे सिखाती है अर्थ अर्थात धन का सदुपयोग करना सिखाती है।
उन्नीसवीं तीली हमे सिखाती है नीति अर्थात देश की नीति के प्रति निष्ठा रखना सिखाती है।
बीसवीं तीली हमे सिखाती है न्याय अर्थात सभी के लिए न्याय की बात करना सिखाती है।
इक्कीसवीं तीली हमे सिखाती है सहकार्य अर्थात आपस में मिलजुल कार्य करना सिखाती है।
बाईसवीं तीली हमे सिखाती है कर्तव्य अर्थात अपने कर्तव्यों का ईमानदारी से पालन करना सिखाती है।
तेईसवी तीली हमे सिखाती है अधिकार अर्थात अधिकारों का दुरूपयोग न करना सिखाती है।
चौबीसवीं तीली हमे सिखाती है बुद्धिमत्ता अर्थात देश की समृधि के लिए स्वयं का बौद्धिक विकास करना सिखाती है।

Categories

 

Recent Posts

error: Bhai Bahut Mehnat Lagi Hai. Padhna Free hain?