जज्बा और जुनून के साथ देश सेवा का मन है तो करे NDA की तैयारी

join nda coaching in dehradun

“हजारों कोसो की यात्रा की शुरुवात एक कदम से शुरु होती हैं।”

हमें अपने बच्चों को भी अपने देश से प्रेम करना और उसका सम्मान करना सिखाना चाहिए ताकि बड़े होकर वो अपने देश का नाम रोशन कर सकें|

आज का युवा अपने करियर को लेकर भटकाव स्थिति में हैं ऐसे में सही दिशा निर्देश की जरूरत है और युवा शक्ति को सही दिशा में भेजने की जरूरत हैं, सभी  युवाओं की कभी ना कभी एक तम्मना रहती हैं कि वो सेना में अफसर बने और देश सेवा में योगदान दे, और सेवा समर्पण और सम्मान की वाली नौकरी की हर किसी को तलाश रहती है और राष्ट्रीय सुरक्षा अकादमी (NDA)  इसकी पहली सीढ़ी हैं

अपने देश की सेवा करने का सबसे अच्छा तरीका है वो देश की सेना में अपना योगदान दे ,और NDA से बेहतर  कोई मौका नही हो सकता, NDA के माध्यम से न केवल देश का सेवा का मोका मिलता हैं बल्कि करियर के हिसाब से भी NDA एक सबसे अच्छा विकल्प है|

NDA का EXAM 1 साल में 2 बार होता हैं, इसके लिए तय उम्र 16 साल 6 महीने से लेकर 19 साल. जब तक देश के अधिकांश युवा इस बात को सोच नहीं पाते कि वे साइंस पढ़ें या फिर बी.टेक करें. तब तक NDA पहुंचने वाला नौजवान अफसर बन चुका होता है.

NDA की written test में 2 पेपर होते हैं मैथ्स (300) नंबर  का दूसरा पेपर जनरल एबिलिटी टेस्ट (600) NCERT की किताबे आपकी बहुत मदद करती हैं, अगर आप किसी शिक्षण सस्थान से कोचिंग करे तो कम समय में आप NDA का exam निकाल सकते हैं और अपने अफसर बनने का सपना जल्दी पूरा कर सकते हैं.

देहरादून एक ऐसा एजुकेशन हब है जहां अब NDA के लिए बहुत दूर से बच्चे NDA की तैयारी करने आते हैं, देहरादून ने देश को कई असफर दिये हैं , देहरादून में कई परम चक्र विजेता हुए हैं मेजर धन  सिंह थापा को कोन नही जानता,  अगर आपमें भी जज्बा और जुनून के साथ देश सेवा का मन है तो करे NDA की तैयारी|

एक मुलाकात

अवशिष सहगल

Director (Ground Zero Defence Institute)

 

347 Total Views 1 Views Today
Previous Post
Next Post

Posted by- gk in hindi | Education Masters


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.