#SpeakUpForSSCRailwayStudents

आज पूरे देश भर मे अनेको आशंकाओं और विरोध के ऊबाल के बावजूद इंजीनियरिंग (Engineering)एडमिशन के लिए जेईई मेन परीक्षा का आयोजन किया जा रहा है। काफी लम्बे समय तक छात्रों ने इन परीक्षाओं(Exams) का विरोध किया। इतना अधिक विरोध के बाद भी NTA इस परीक्षा का संचालन कर रहा है और वहीं इसके दूसरी ओर SSC-CGL परीक्षाएं दे चुके छात्रों का गुस्सा भी सातवें आसमान पर पहुंच गया है। छात्रों का गुस्सा सातवें आसमान पर पहुंच जाना भी स्वाभाविक (natural)ही है। वर्ष 2018 मे ली गई SSC द्वारा परीक्षा का परिणाम अभी तक घोषित भी नहीं हुआ है ।

दो वर्ष पूरे होने को आए हैं इतनी लम्बी प्रतीक्षा(Wait) के बाद आखिरकार कब तक छात्र चुप रहेंगे। जिन परीक्षार्थियों ने SSC की इन परीक्षाओं के साथ अपने भविष्य (Future)के सपने जोड़े हैं उनका SSC और मोदी सरकार (केंद्र सरकार )के विरोध मे गुस्सा इतना अधिक बढ़ गया है कि आज सोशल मीडिया(Social Media) ख़ासकर ट्विटर पर #SpeakUpForSSCRailwayStudents एक ट्रेंडिंग हैशटैग रूप मे उभरकर सामने आया है।

हमारे देश के लाखों छात्र अपने भविष्य(Future) के साथ आयोग(Ayog) द्वारा किए गए मज़ाक से बहुत नाराज हैं। अब लाखों छात्र CGL 2018 परीक्षा के परिणाम प्रकाशित न करने पर आयोग की मौन धारण से जगह जगह विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं। वहीं अब एक तरफ कथित तौर पर 20 मिलियन आवेदक आज भी एसएससी(SSC) की तरफ से एनटीपीसी (NTPC) भर्ती परीक्षा आयोजित करने की घोषणा का बेसब्री से इंतजार कर रहे है। एनटीपीसी (NTPC) भर्ती परीक्षा एक साल से भी अधिक समय से प्रतीक्षारत है।

वैश्विक महामारी कोरोना (Corona)के कारण आज हमारे देश मे बेरोजगारी ने जहाँ पैर पसार लिया है और नौकरियों के हाथ से जाने के बाद युवा परेशान हो रहे हैं। ऐसे में वे युवा सोशल मीडिया(Social Media) पर खुलकर अपना विरोध प्रदर्शन कर रहे है।

इससे पूर्व SSC आयोग वर्ष 2018 की 04 मई को संयुक्त स्नातक स्तरीय परीक्षा 2018 की आधिकारिक अधिसूचना की घोषणा की थी। संयुक्त स्नातक स्तरीय परीक्षा 2018 की प्रारंभिक (Primary Exmas)परीक्षा 04 जून, 2019 को संचालित की गई थी लेकिन 29 दिसंबर, 2019 को वर्णनात्मक मुख्य परीक्षा संचालन किया गया था। परीक्षा के बाद उसके परिणामो के आने का उम्मीदवारों(Candidates) को बेसब्री से इंतजार है।

रेलवे एनटीपीसी SSC ग्रुप डी स्टाफ की भर्ती के लिए परीक्षा का आयोजन करता है। 01 मार्च, 2019 को परीक्षा की नवीनतम पुनरावृत्ति हेतु आधिकारिक अधिसूचना (Official Notification)प्रकाश आई थी।आयोग आज तक 2.8 करोड़ आवेदकों में से चयन के लिए परीक्षाओं(Exams) को संचालित नहीं करा पाया है। इस परीक्षा से भारतीय रेलवे(Indian railway) में ग्रुप डी स्तर के पदों में 90,000 रिक्तियों को भरा जाता है। कर्मचारी चयन आयोग (SSC)के स्तर की एक सरकारी भर्ती एजेंसी की इस तरह की मौनधारण करने के कारण लाखों उम्मीदवारों का भविष्य अधर पर लटक गया है।

सोशल मीडिया पर बीते मंगलवार को पूरा दिन #SpeakUpForSSCRailwayStudents ने अपना कब्ज़ा जमाए रखा । इस ट्रेंड के माध्यम से SSC CGL 2018 के छात्रों के अतिरिक्त RRB NTPC के उम्मीदवारों ने अपनी अपनी मांगो को रखा। बड़ी संख्या में सोशल मीड‍िया (Social Media)पर विरोध प्रदर्शन करने वाले उम्मीदवारों को समर्थन मिल रहा है।

Categories

 

Recent Posts

error: Bhai Bahut Mehnat Lagi Hai. Padhna Free hain?