Happy teacher day

Teacher’s Day के बारे में कुछ बातें जो आप नहीं जानते

Teacher Day  एक ऐसा दिन है जिस दिन विश्व के कुछ देशो में शिक्षक दिवस शिक्षकों (गुरुओं) को विशेष सम्मान देने के लिये मनाया जाता है इस दिन कुछ देशो में छुट्टी रहती है जबकि इस दिन कुछ देश कार्य करते हुए मनाते हैं। इस दिन आध्यापकों को सामान्य रूप से और कार्यरत एवं सेवानिवृत्त शिक्षकों को उनके विशेष योगदान के लिये सम्मानित किया जाता है। 5 अक्टूबर को संयुक्त राष्ट्र में मनाया जाता है।

भारत में शिक्षक दिवस  को भारत के भूतपूर्व राष्ट्रपति डॉ सर्वपल्ली राधाकृष्णन ( भारत के प्रथम उप-राष्ट्रपति ) का जन्मदिन (5 सितंबर) के रूप में मनाया जाता है।

 

Teacher Day History (इतिहास)

Teacher Day  को संयुक्त राष्ट्र द्वारा साल 1966 में यूनेस्को और अंतर्राष्ट्रीय श्रम संगठन की हुई उस संयुक्त बैठक को याद करने के लिये मनाया जाता है जिसमें अध्यापकों की स्थिति पर चर्चा हुई थी और इसके लिये सुझाव प्रस्तुत किये गये थे।

अतः Teacher Day  को 1994 के बाद से प्रतिवर्ष लगभग सौ से अधिक देशों में मनाया जा रहा है और इस प्रकार वर्ष 2017  में यह 23 वाँ विश्व शिक्षक दिवस होगा। इस अवसर को एजुकेशन इंटरनेशनल नामक संस्था “गुणवत्ता परक शिक्षा के लिये एकजुट हों” के नारे के साथ मनाने जा रही है और एक अन्य संस्था इसे “भविष्य में निवेश करें, शिक्षकों में निवेश करें” के थीम के साथ मनाने की तैयारी में है।

Teacher Day  In India (भारत में शिक्षक  दिवस)

भारत में शिक्षक  दिवश को भारत के भूतपूर्व राष्ट्रपति डॉ सर्वपल्ली राधाकृष्णन ( भारत के प्रथम उप-राष्ट्रपति ) का जन्मदिन (5  सितंबर) के रूप में मनाया जाता है, लेकिन हम भारत में शिक्षक  दिवश डॉ सर्वपल्ली राधाकृष्णन के जन्मदिवस के रूप  में ही क्यों मनाया जाता है किसी दूसरे leader के जन्मदिवस पर क्यों नहीं ? Legends का कहना है:  “राधाकृष्णन भारत के राष्ट्रपति बने, जब छात्रों का एक समूह उनके जन्मदिन को राधाकृष्णन जयंती के रूप में मनाना चाहते थे, उन्होंने नम्रता से इनकार कर दिया और इसके बजाय उन्हें शिक्षकों के सम्मान के लिए एक दिन के रूप में मनाने का सुझाव दिया और इसी तरह भारत उनके जन्मदिवस (5 सितंबर) को शिक्षक दिवस मनाते हुए।”

Important Facts Teacher’s Day (शिक्षक दिवस के महत्वपूर्ण तथ्य)

  1. भारत में शिक्षक दिवस कब मनाया जाता है ?-  5 सितम्बर
  2. 2 . डॉ सर्वपल्ली राधाकृष्णन का जन्म कब हुआ था?- 5 सितम्बर 1888
  3. 3 . डॉ सर्वपल्ली राधाकृष्णन की मृत्यु कब हुई थी ?-17 अप्रैल 1975
  4. 4 . डॉ सर्वपल्ली राधाकृष्णन को भारत रत्न कब मिला?- 1954
  5. डॉ सर्वपल्ली राधाकृष्णन के पिता का क्या नाम था?- सर्वपल्ली वीरास्वामी
  6. डॉ सर्वपल्ली राधाकृष्णन की माता का क्या नाम था?- सीताम्मा
  7. डॉ सर्वपल्ली राधाकृष्णन के कितने भाई बहन थे?- पाँच भाई , एक बहन
  8. डॉ सर्वपल्ली राधाकृष्णन का जनम हुआ था?- तमिलनाडु के तिरूतनी ग्राम में
  9. डॉ सर्वपल्ली राधाकृष्णन भारत के पहले उप-राष्ट्रपति कब बने?- 1952
  10. डॉ सर्वपल्ली राधाकृष्णन भारत के दोबारा उप-राष्ट्रपति बने?- 1957

Other Country Celebrate Teacher’s Day

हमारे देश के अलावा और भी कई देशो में teacher day मनाया जाता है

Country Name Date
अर्जेन्टीना September 11
अल्बानिया March 7
ऑस्ट्रेलिया Last Friday of October
ब्राज़ील October 15th
चिली October 16
चीन September 10
चेक गणराज्य March 28
इक्वाडोर April 13
हांग कांग 12 September
हंगरी First Saturday of June
भारत September 5
इंडोनेशिया November 25
   

 

Best wishes messages for Teacher’s Day  2017

“A Good Teacher can Inspire hope, ignite the imagination and instill a love of learning”

“Better than a thousand days of diligent-study is one day with a great teacher”

“We Will Always Be thankful To you For all the   hard work and Efforts that you have put in to Educate us”

“You Guided me when I was lost you supported me when I was weak  you have enlightened me all through Today what I am is just because of you my teacher thank you”

#greetings for teachers day

#happy teachers day

#happy teachers day message

#happy teachers day quotes

#happy teachers day wishes

#message for teacher

#message for teachers day

#teachers day card

#teachers day greetings

#teachers day slogan

#teachers day sms

#teachers day wishes

 

1 thought on “Teacher’s Day के बारे में कुछ बातें जो आप नहीं जानते”

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

error: Bhai Bahut Mehnat Lagi Hai. Padhna Free hain?