क्या आपको जाति के नाम पर आरक्षण चाहिए है?

Top 10 longest and Major Rivers of India

भारत की 10 सबसे बड़ी नदियाँ

गंगाGanga

यह भारत की सबसे लम्बी नदी है। गंगा का उद्गमन गंगोत्री ग्लेशियर से होता है। इसकी लम्बाई 2525 किमी है। गंगा नदी उत्तराखण्ड ,उत्तरप्रदेश ,बिहार झारखण्ड तथा पश्चिम बंगाल पाँच राज्यों से प्रवाहित होती है| भारत में इस नदी को धार्मिक रूप से पवित्र माना जाता है। गंगा की सबसे बड़ी सहायक नदी यमुना है

चम्बल, बेतवा और केन इसकी अन्य सहायक नदियाँ है गंगा नदी को बांग्लादेश  पदमा के नाम से जाना जाता है जिसको बांग्लादेश में जमुना के नाम से जाना जाता है। गंगा  विश्व की एकमात्र नदी है जो ब्रह्मापुत्र की नदियों के साथ मिलकर विश्व का सबसे बड़ा डेल्टा बनाती है।

गोदावरीGodavari  

गोदावरी नदी भारत की दूसरी सबसे बड़ी नदी है। गोदावरी नदी का उद्गमन ब्रहागिरि पर्वत शिखर से होता  है।इसकी लम्बाई 1465 किमी है। यह नदी महाराष्ट्र ,तेलगाना ,आंध्रप्रदेश ,छत्तीसगढ़ तथा पुदुचेरी में प्रवाहित होती है। गोदावरी नदी को दक्षिण भारत की दक्षिण गंगा नदी भी कहा जाता है।  गोदावरी नदी दक्षिण भारत का सबसे बड़ा नदी तंत्र है। गोदावरी नदी का उद्गम नासिक जिले से त्रयम्बक पहाड़ी से होता है। इसे दक्षिण गंगा एवं नासिक में कुम्भमेला लगता है। इसकी सहायक नदियाँ पैनगंगा(Penganga) ,इन्द्रावती(Indravati) ,प्राणहिता(Pranhita) और मंजरा(Manjra) है। यह नदी महाराष्ट्र, छत्तीसगढ़, उड़ीसा एवं आन्ध्रप्रदेश से बहते हुए बंगाल की खाड़ी(Bayof Bengal) में  गिरती है।

कृष्णाkrishna  कृष्णा नदी भारत की तीसरी सबसे बड़ी नदी है यह महाबलेश्वर (महाराष्ट्र ) से निकलकर कर्नाटक ,तेलगाना तथा आंध्रप्रदेश ,छत्तीसगढ़ से प्रवाहित होकर बंगाल की खाड़ी में गिरती है। इसकी लम्बाई 1400 किमी है। कृष्णा नदी का उद्गम मावलेश्वर महाराष्ट्र के निकट से होता है।  इसकी सहायक नदियाँ कोयना ,तुंगभद्रा ,भीमा घाटप्रभा मालप्रभा दूधगंगा मूसी आदि प्रमुख है। यह नदी महाराष्ट्र ,कर्नाटक आन्धप्रदेश में बहते हुए बंगाल की खाड़ी में गिरती है।

यमुनाYamuna  यमुना नदी उत्तराखण्ड ,हरियाणा तथा उत्तरप्रदेश में प्रवाहित होती है। इसकी लम्बाई 1370 किमी है। यह भारत की चौथी सबसे लम्बी नदी है। दिल्ली व आगरा शेर इसी नदी के तट पर स्थित है यमुना नदी का उद्गम यमुनोत्री हिमनद से होता है। इसकी लम्बाई 1385 km है। इसकी सहायक नदियाँ चम्बल ,बेतवा ,केन आदि नदियाँ है। यमुना नदी इलाहाबाद में गंगा से मिलती है।

नर्मदा (Narmada) –  नर्मदा नदी का उद्गमन अमरकण्टक की पहाड़ियों से होता है। जिसकी लम्बाई 1312 किमी है।  नर्मदा नदी  अरब सागर (Arabian of Sea )में गिरती है यह मध्य प्रदेश तथा महाराष्ट्र में प्रवाहित होती है। इसकी सहायक नदियाँ हिरन ,वारना दूधी ,तवा ,शेर आदि नदियाँ है। दुग्धधारा कपिल धारा ,धुआधार आदि जल प्रपात इसी नदी पर है।  यह नदी विंध्यन एवं सतपुड़ा श्रेणी के मध्य भ्रंश घाटी में बहते हुए यह भड़ोंच के निकट खम्भात की खाड़ी में गिरती है। सरदार सरोवर बाँध इसी नदी पर स्थित है।

सिन्धु – ( Sindhu ) –  यह भारत की छटी सबसे लम्बी नदी है। इसकी कुल लम्बाई 3180 किमी है किन्तु भारत में यह 1124 किमी में प्रवाहित है इस नदी का अधिकांश भाग पकिस्तान में है। यह मानसरोवर झील से निकलकर अर्ब सागर में गिरती है। सिंधु नदी का उद्गम तिब्बत मान सरोवर झील के  निकट राकसताल झील से होता है।  यह भारत में लद्दाख एवं जास्कर श्रेणियों के मध्य बहती है। सिन्धु नदी की सहायक नदियाँ है श्योक ,गिलगित ,जास्कर ,हुंजा ,शिगार आदि है।  यह करांची के पास अरब सागर में गिरती है।

महानदी(Mahanadi)  – यह भारत की सातवीं  सबसे लम्बी  नदी है। यह छत्तीसगढ़ तथा ओडिशा में प्रवाहित होने वाली नदी है। जिसकी लम्बाई  858 किमी है। यह धमतारी जिले के सिहावा नामक  स्थान से निकलती है। महानदी नदी का उद्गम मध्यप्रदेश के सिहावा श्रेणी से है। इसकी सहायक नदियाँ हंस ,देव माघ ,इब ,तेल नदी है। यह नदी मध्यप्रदेश ,छत्तीसगढ़ ,उड़ीसा में बहते हुए कटक के पास डेल्टा (Delta) बनाती है।

कावेरी नदी – (Kaveri)  – कावेरी नदी का उद्गमन कर्नाटक की कोडागू पहाड़ी से होता है। इसकी लम्बाई 850 किमी है। यह कर्नाटक से निकलकर तमिलनाडु (Tamilnadu) में प्रवाहित होती हुई बंगाल की खाड़ी(Bay of Bengal) में गिरती है। कावेरी नदी का उद्गम कुर्ग जिले के ब्रम्हागिरी पहाड़ी से होता है।  इसकी सहायक नदियाँ  ,शिमसा ,नोइल ,अमरावती आदि इसकी प्रमुख नदियाँ है। इस नदी को दक्षिण भारत की गंगा भी कहा जाता है। यह नदियाँ केरल ,कर्नाटक ,तमिलनाडु में बहती है। इसी नदी पर श्री रंगपटटनम एवं शिव समुद्रम महत्वपूर्ण नदी द्वीप है।

ब्रह्मपुत्र(Brahamputra)  ब्रह्मपुत्र नदी की कुल लम्बाई 2900 किमी है। भारत में इसकी मात्र 725 किमी लम्बाई में ही प्रवाहित होती है। यह तिब्बत (Tibet) में आगसी ग्लेशियर से निकलती है वह यह भारत के बांग्लादेश में प्रवाहित होती हुई बंगाल की खाड़ी में गिरती है। इस नदी के किनारे गुवाहाटी शहर स्थित है। तिब्बत में इसको   सांग्पो के नाम से जाना जाता है। जबकि भारत में

ताप्ती नदी – (Tapti )  यह भारत की 10 वीं सर्वाधिक लम्बी नदी है  । ताप्ती नदी का उद्गम मध्यप्रदेश के बैतूल जिले के मुल्ताई नामक स्थान से निकलती है। यह सतपुड़ा एवं अजन्ता श्रेणियों के मध्य भ्रंश घाटी में बहते हुए सूरत के पास खम्भात की खाड़ी में गिरती है। इसकी लम्बाई 724 km है इसकी सहायक नदियाँ पुराना ,बैतूल ,शिप्रा एवं मोर है।

यह भारत की उन नदियों में शामिल है जो पूर्व से पश्चिम की और प्रवाहित होती है। अन्य दो नदियाँ ,नर्मदा तथा माही है।

1881 Total Views 1 Views Today
Previous Post
Next Post

Posted by- Roopali Thapliyal


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close