UKPCS (Main) Examination QAB Test Series (History & Culture of India)

UKPCS (Main) Examination QAB Test Series (History & Culture of India)

HOPE IAS QAB TEST SERIES: HISTORY & CULTURE OF INDIA

UKPCS (MAINS) EXAMINATION-2016

HOPE IAS Academy

भाग -1 अंक – 30  

नोट – इस भाग में कुल 15 प्रश्न है। प्रत्येक प्रश्न अनिवार्य है। प्रत्येक प्रश्न के लिये 02 अंक निर्धारित है।  (उत्तर सीमा -20 शब्द )

प्रश्न संख्या (1 ) – उपनिषद शब्द का अर्थ स्पष्ट करें.

प्रश्न संख्या (2 ) – जातक कथाओं से आप क्या समझते हैं.

प्रश्न संख्या (3 ) – द्वीतीय बौध संगिती के बारे में बताएं.

प्रश्न संख्या  (4 ) – कारटेज प्रणाली से आप क्या समझते हैं?

प्रश्न संख्या (5 ) – मुग़लकाल में वाकयानिगार कौन थे?

प्रश्न संख्या (6 ) – मध्यकालीन भारतीय प्रशासनिक व्यवस्था के सन्दर्भ में तलिया शब्द के अर्थ को स्पष्ट करें.

प्रश्न संख्या (7 ) – अभिनव भारत संस्था के गठन का उद्देश्य स्पष्ट करें.

प्रश्न संख्या  (8 ) – अरुन्डेल कमेटी के गठन का उद्देश्य स्पष्ट करें.

प्रश्न संख्या (9 ) – दक्षिण भारत के साहित्यिक धरातल के परिप्रेक्ष्य में संगम शब्द का क्या अर्थ था?

प्रश्न संख्या (10) – प्राचीन भारत में सामान्यतः प्रयोग की जाने वाली शब्दावली “विदुषी कन्याओं” से आप क्या समझते हैं?

प्रश्न संख्या (11) – पूंजीवाद शब्द के अर्थ को स्पष्ट करें.

प्रश्न संख्या (12 ) – पैशाच विवाह का क्या अर्थ है?

प्रश्न संख्या (13 ) –  कालाशोक कौन था?

प्रश्न संख्या (14) – उपनिवेशवाद का क्या अर्थ है?

प्रश्न संख्या (15 ) – तहकीकात कमेटी से आप क्या समझते हैं

भाग -2 अंक 50

नोट – इस भाग में कुल 10 प्रश्न है। प्रत्येक प्रश्न अनिवार्य है। प्रत्येक प्रश्न के लिये 05 अंक निर्धारित है।  (उत्तर सीमा – 50 शब्द )

प्रश्न संख्या (16 ) – आश्रम व्यवस्था से आप क्या समझते हैं?

प्रश्न संख्या (17 ) –  वर्णव्यवस्था पर टिप्पणी करें.

प्रश्न संख्या (18 ) – जैन और बौध धर्म के सिद्धांतों में समानता के तत्वों को दर्शाएं.

प्रश्न संख्या (19) –  रामानुजम कौन थे?

प्रश्न संख्या (20 ) – निजामुद्दीन औलिया पर टिप्पणी करें.

प्रश्न संख्या (21 ) – भारतीय राष्ट्रीय आन्दोलन के सन्दर्भ में उदारवादी एवं उग्रवादी विचारधाराओं में अंतर स्पष्ट करे.

प्रश्न संख्या (22 ) – लखनऊ समझौता पर टिप्पणी करें.

प्रश्न संख्या (23 ) – पुरुषार्थ शब्द से आप क्या समझते हैं?

प्रश्न संख्या (24 ) – शिवाजी के अष्टप्रधान पर टिप्पणी करें.

प्रश्न संख्या (25 ) – शिक्षा का अधोमुखी सिद्धांत क्या था?

 

भाग – 3 अंक – 40

नोट – इस भाग में कुल 07 प्रश्न है। अभ्यर्थी किन्ही 05 प्रश्नों का उत्तर दे ,प्रत्येक प्रश्न के लिए 08 अंक निर्धारित है। (उत्तर सीमा -125 शब्द )

प्रश्न संख्या (26 ) – ऋग्वैदिककालीन सामाजिक व्यवस्था पर प्रकाश डालें.

प्रश्न संख्या (27 ) – इक्ता व्यवस्था से आप क्या समझते हैं? यह सामंतवाद से किन अर्थों में भिन्न थी?

प्रश्न संख्या (28 ) – बलबन और अल्लाउद्दीन खिलजी के राजत्व के सिद्धांतों में समानताओं को दर्शाएं.

प्रश्न संख्या (29 ) – धन-निकासी का सिद्धांत क्या था?

प्रश्न संख्या (30 ) – तराईन का द्वतीय युद्ध तथा बक्सर का युद्ध किन अर्थों में समान थे?

प्रश्न संख्या (31 ) – साम्राज्यवाद, पूंजीवाद का अगला चरण होता है. टिप्पणी करें.

प्रश्न संख्या (32 ) – गुप्तोत्तर कालीन राजनीतिक व्यवस्था पर प्रकाश डालें.

 

 

भाग – 4  अंक – 80

नोट – इस भाग में कुल 07 प्रश्न है। अभ्यर्थी किन्ही 05 प्रश्नों का उत्तर दे। प्रत्येक प्रश्न के लिए 16 अंक निर्धारित है। (उत्तर सीमा – 250 शब्द  )

प्रश्न संख्या (33 ) – हर्षवर्धन की मृत्यु ने उत्तर भारत में केन्द्रीय सत्ता के परिपेक्ष्य में शून्यता के काल को जन्म दिया. इस कथन की विवेचना करें.

 

प्रश्न संख्या (34 ) – ब्रिटिशकालीन शिक्षा के परिप्रेक्ष्य में इस कथन की विवेचना करें “हमने पश्चिम के हथोड़े से ही पश्चिम की बेड़ियों को काट डाला

प्रश्न संख्या (35 ) – उत्तरवैदिक काल में ब्राह्मण एवं क्षत्रिय वर्ण के मध्य हुए समझौते ने कैसे साम्राज्यवाद को बढ़ावा दिया?

प्रश्न संख्या(36 ) – भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस एवं गांधीजी, दोनों ने मुस्लिम समुदायों के राजनीतिक अधिकारों की उपेक्षा कर किस सीमा तक आधुनिक भारत में पाकिस्तान के गठन की मांग को बलवती किया?

प्रश्न संख्या(37) – गुट-निरपेक्ष आन्दोलन की उत्पत्ति एवं विकास को संक्षेप में समझाइए.

प्रश्न संख्या (38 ) – मनसबदारी व्यवस्था को समझाते हुए बताइए कि यह व्यवस्था जागीरदारी संकट के पैदा होने में कहाँ तक सहयोगी थी?

प्रश्न संख्या (39 ) – क्या कैबिनेट मिशन की मांग को अस्वीकार करके भारत के विभाजन को रोका जा सकता था?

 

subscribe you email for answer

Previous Post
Next Post

Posted by- gk in hindi | Education Masters

अब आप Education Masters Andriod App भी डाउनलोड कर सकते हैं डाउनलोड करने के लिए लिंक पर क्लिक करें Click Here for Download

दोस्तों अगर आपको किसी भी प्रकार का सवाल है या eBook की आपको आवश्यकता है तो आप निचे comment कर सकते है. आपको किसी परीक्षा की जानकारी चाहिए या किसी भी प्रकार का हेल्प चाहिए तो आप comment में हमे बता सकते हैं हम आपको जल्दी ही reply कर देंगे। अगर आपको हमारा article पसंद आया हो तो अपने दोस्तों के साथ share करना न भूलें करे.

आप हमारे फेसबुक पेज Facebook page से भी जुड़ सकते है जिसके माध्यम से आपको Daily updates आपके फेसबुक पर मिलते रहेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.