क्या आपको जाति के नाम पर आरक्षण चाहिए है?

UKPSC Mains Exam Important GK Question Answers

                                        पंचवर्षीय योजनाए (Five Year Plans )

प्रथम पंचवर्षीय योजना (First Five Year Plan) :-

काल (Period) – (1951 – 1956 तक )

वृद्धि दर (Growth rate) : –

  • लक्ष्य 1 था
  • प्राप्ति 3 .6 की हुयी
  • प्रति व्यक्ति आय में वृद्धि 8 % हुई।

मॉडल (Model) हेरॉल्ड  डोमर प्लान  पर आधारित थी

     उद्देश्य (objective) : –  

  • द्वितीय विश्व युद्ध व देश के विभाजन से क्षतिग्रस्त अर्थव्यवस्था का पुनरुत्थान करना
  • स्फीतिकारक प्रवृतियों को रोकना।
  • भविष्य में द्रुत गति से आर्थिक विकास हेतु सड़को ,परिवहन व संचार सुविधाओं के साथ – 2 सिंचाई व जलविधुत परियोजनाओं का निर्माण करना।
  • उत्पादन क्षमता में वृद्धि करना।
  • खाद्यान्न संकट का समाधान करना।
  • देश के विकास कार्यक्रमों के क्रियान्वन हेतु प्रशासनिक व अन्य संस्थांओं की स्थापना करना
  • इस योजना में कृषि को उच्चतम प्राथमिकता प्रदान की गई थी

द्वितीय पंचवर्षीय योजना (Second Year PLan)  –

काल  (Perod)  – (1956 – 1961 ) तक

वृद्धि दर (Growth rate) –

  • लक्ष्य 4 . 5 था
  • प्राप्ति 1 की हुई थी
  • प्रति व्यक्ति आय में 2 %  वार्षिक वृद्धि हुयी।

मॉडल(Model) नेहरू – P C महानबोलिस मॉडल पर आधारित थी

उद्देश्य (Objective)

  • इसका मूलभूत उदेश्य देश में औद्योगिकीकरण प्रारम्भ करना था तथा इसके अतिरिक्त 1956 में घोषित औद्योगीकरण नीति में समाजवादी समाज व्यवस्था को स्वीकार किया गया।
  • द्रुत गति से औद्योगीकरण हेतु आधारभूत उद्योगों व भारी उद्योगों के विकास पर विशेष बल दिया गया।
  • रोजगार के अवसरों में वृद्धि करना
  • आय व संपत्ति की असमानता को कम करना
  • राष्ट्रीय आय में 25 % की वृद्धि करना

तृतीय पंचवर्षीय योजना(Third Year Plan)  –

काल (Period) ( 1961 से 1966 तक )

वृद्धि दर (Growth rate) : –

  • लक्ष्य 6 था
  • प्राप्ति 8 की हुई थी

मॉडल (Model) – सेन्डी चक्रवर्ती मॉडल पर आधारित थी।

उद्देश्य (Objective)

  • राष्ट्रीय आय (National Income) में 30 % को वृद्धि करना।
  • खाद्यान्नों में आत्मनिर्भरता प्राप्त करना।
  • उद्योगों व निर्यात हेतु कृषि उत्पादन में वृद्धि करना। अर्थात इसमें कृषि व उद्योग दोनों को प्राथमिकता प्रदान की।
  • आधारभूत उद्योगों का विस्तार करना तथा मशीन निर्माण क्षमता स्थापित करना।
  • श्रम शक्ति का उपयोग करना व अवसर की समानता बढ़ाना।
  • औद्योगिक उत्पादन में 14 % का वार्षिक उत्पादन वृद्धि का लक्ष्य रखा गया था

तृतीय पंचवर्षीय योजना असफलता के कारण

(Reason of Failure Third Year Plan) :

  • 1962 में भारत – चीन युद्ध।
  • 1965 में भारत – पाक युद्ध।
  • 1965 -66 में भारत में सूखा पड़ना।

योजना अवकाश (Plan Leave) : – (1966 – 1969 तक)

तृतीय पंचवर्षीय योजना (third Year Plan) की बड़ी असफलता के कारण आर्थिक विकास रुक सा गया था तथा 1966 में भारत सरकार ने निर्यात में वृद्धि हेतु भारतीय रूपये के अवमूलयन की घोषणा की जिसके अनुकूल परिणाम प्राप्त नहीं हुये जिस कारण चौथी पंचवर्षीय योजना को रोककर उसमे स्थान पर तीन वार्षिक योजनाए लागू की गयी थी।  इस दौरान 3. 8 % को वार्षिक वृद्धि दर प्राप्त हुयी।

चतुर्थ पंचवर्षीय योजना (Fourth Five Year Plan)  : –

काल (Period) – (1969 – 1974 तक )

  • वृद्धि दर लक्ष्य  ( 7 ) था
  • प्राप्ति 3 . 3 की हुई

मॉडल (Model)  – रुद्रमाने मॉडल पर आधारित थी।

उद्देश्य (Objective) : –

  • मुख्य उद्देश्य स्थिरता के साथ आर्थिक विकास तथा आत्मनिर्भरता को अधिकाअधिक प्राप्ति।
  • कृषि व औद्योगिक क्षेत्र में उत्पादन में आत्मनिर्भरता।
  • मूल्य स्तर में स्थापित हेतु मुद्रा प्रसार तत्वों को नियंत्रित करना
  • सामान्य उपभोग की वस्तुओं के उत्पादन से प्रोत्साहित करना
  • जनसँख्या वृद्धि पर नियंत्रण व परिवार नियोजन कार्यों को लागू करना जीवन स्तर में सुधार हेतु।
  • निर्यात में वृद्धि करना
  • पिछले क्षेत्रों का विकास
  • बैंको पर सामान्य नियन्त्रण लगाना
  • समाज में आर्थिक समानता व न्याय की स्थापना करना।
  • विफलता के कारण – मौसम की प्रतिकूलता।
  • बांग्लादेशी शरणार्थियों का भारत आगमन

Read More about list of Five-year plans of India

1315 Total Views 2 Views Today
Previous Post
Next Post

Posted by- Roopali Thapliyal


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close