Cell: Structure And Function || Cell the Basic Units Of Life.

Structural  Composition of  Cell

कोशिका की रचनाएँ मुख्य रूप से तीन प्रकार की होती हैं|  कोशिका झिल्ली, केंद्रक तथा कोशिका द्रव्य|

कोशिका के अंदर होने वाले समस्त क्रियाकलाप तथा उसकी बाहरी पर्यावरण से पारस्परिक क्रियाएं इन्ही रचनाओं के कारण संभव है|

Plasma Cell  or Cell  Membrane

  • कोशिका झिल्ली यह कोशिका की सबसे बाहर वाली परत होती है जो कोशिका के घटकों को बाहरी पर्यावरण से अलग करती है|
  • प्लाज्मा झिल्ली कुछ पदार्थों को अंदर बाहर आने- जाने देती है यह अन्य पदार्थों की गति को भी रोकती है|
  • कुछ पदार्थ जैसे कार्बन डाइऑक्साइड अथवा ऑक्सीज़न कोशिका झिल्ली के आर-पार विसरण प्रक्रिया द्वारा आ जा सकते हैं|
  • पदार्थों की गति उच्चतम से निम्न  की  ओर होती है  उदाहरण के लिए जब  कुछ पदार्थ जैसे  CO2  कोशिका में  एकत्रित हो जाती हैं तो उसकी सांद्रता बढ़ जाती है  कोशिका में बहाए पर्यावरण CO2 की सांद्रता कोशिका में सिथत  CO2 की सांद्रता से कम  होती  है |
  • एक कोशिकीय अलवणीय जलीय जीवो तथा अधिकांश पादप कोशिकाएं परासरण द्वारा जल ग्रहण करते हैं|
  • पौधो के  मूल द्वारा जल का अवशोषण प्रसारण का एक उदाहरण है|
  • प्लाज्मा झिल्ली लचीली होती है और कार्बनिक अणुओं जैसे लिपिक तथा प्रोटीन की बनी होती है प्लाज्मा झिल्ली की रचना हम केवल इलेक्ट्रॉन सूक्ष्मदर्शी से देख सकते हैं
  • कोशिका झिल्ली का लचीलापन एककोशिकीय जीवो में एक कोशिका के बहाए से अपना भोजन तथा अन्य पदार्थ ग्रहण करने में सहायता करता है

 

 Cell Wall

  • पादप कोशिका में प्लाज्मा झिल्ली के अतिरिक्त कोशिका भित्ति भी होती है पादप कोशिका भित्ति मुख्यतः सैलूलोज की बनी होती है सैलूलोज एक बहुत जटिल पदार्थ है
  • जब किसी पादप कोशिका में प्रसारण  द्वारा पानी की हानि होती है कोशिका झिल्ली सहित आंतरिक पदार्थ संकुचित हो जाते हैं इस घटना को जीव द्रव्य कुंजन कहते हैं

Nucleus

  • केन्द्रक के चारों ओर दोहरी परत का  आवरण  होता है इसे केंद्र झिल्ली कहते हैं
  • इन छिद्रो  के द्वारा केंद्रक के अंदर का कोशिका द्रव्य केंद्र के बाहर जा पाता है केंद्रक कोशिका में क्रोमोसोम  होते हैं जो कोशिका विभाजन के समय छड़ाकार दिखाई देते हैं
  • क्रोमोसोम डीएनए सा प्रोटीन के बने होते हैं|
  • क्रोमोसोम में अनुवांशिक गुण होते हैं जो माता-पिता से डीएनए अणु के रूप में अगली संतति में जाते हैं|
  • डीएनए के क्रियात्मक खंड को जीन कहते हैं जो कोशिका विभाजन नहीं हो रही होती है उसे डीएनए क्रोमेटिन  पदार्थ के रूप में रहता है|
  • कुछ जीवो में कोशकीय केंद्रक महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है यह प्रक्रिया में अकेली कोशिका विभाजित होकर दो नई कोशिकाएं बनाती हैं कोशिका के रासायनिक क्रियाओं को भी निर्देशित करता है|
  • बैक्टरिया जैसे जीवो में कोशिका का केंद्रकीय भाग बहुत कम होता है क्योंकि इसमें केंद्र झिल्ली भी नहीं होती ऐसे अस्पष्ट केंद्रक क्षेत्र में केवल क्रोमेटिन पदार्थ होता है ऐसे क्षेत्र को केंद्रकाय  कहते हैं |

Cytoplasm

  • प्लाज़मा झिल्ली के अंदर कोशिका द्रव एक तरल पदार्थ होता है| इसमें बहुत से विशिष्ट कोशिका के घटक होते है जिन्हे कोशिका अंगक कहते  है |
  • कोशिका द्रव तथा केन्द्रक मिलाकर जीवद्रव कहा जाता है|
  • कोशिका अंगक झिल्ली युक्त होते है|

other related links:

Top 50 Important Gk Questions for Competitive Exam in Hindi

CURRENT AFFAIRS

Indian Political Science GK Question Answers

Categories

 

Recent Posts

error: Bhai Bahut Mehnat Lagi Hai. Padhna Free hain?