CHAR DHAM YATRA 2019

                            चार धाम  यात्रा 2019

CHARDHAM YATRA 2019

Chardham yatra 2019 की  शुरू होने वाली है और भक्तो ने अपने जाने की बुकिंग करा ली है। Gangotri dham,Yamunotri dham, Kedarnath dham, और Badrinath dham  उत्तराखंड राज्य  में है।  हिन्दू धर्म  में  इस यात्रा का बहुत ही महत्व है।  Chardham yatra में लोग  दूर -दूर से लाखो की संख्या में प्रभु  के दर्शन के लिए  आते है  श्रद्धालुओं  का ऐसा मानना है की यह पर जाने से उनके  सारे  पापो का नास हो जाता है और वह जनम मरण के बंधन से मुक्त हो जाता है Chardham yatra 2019 आप  Bus ,Car और Helicopter से कर सकते है। Chardham yatra में मानसून के चलते  भूस्खलन का खतरा बढ़ जाता है  जिससे मार्ग अवरूद्ध हो जाता है|

CHARDHAM YATRA OPENINIG DATE 2019

आपका Char dham yatra 2019 Article स्वागत है  | CHARDHAM YATRA  2019 में  Gangotri  dham का  कपाट  7  May को खुल जायेगा।Kedarnath yatra   का  Opening date 9 May को सुबह 8:50  पर  है  और यह 21 October तक खुला रहेगा। Badrinath yatra का मंदिर  तीन दिन पहले  मतलब 6  may को खुलेगा और 30 September को close होगा |

chardham yatra uttarakhand

CHARDHAM YATRA PACKAGE FROM HARIDWAR:-

आप Chardham yatra package from haridwar ले सकते है इसमें आप को खाने पीने और रहने का सब कुछ मिलेगा |

1-Haridwar to Barkot  की दूरी =220 km  (7  hours )  

अगर आप Chardham yatra package from Haridwar से करना चाहते है |आप Early morning ही हरिद्वार पहुंच जाये फिर वहाँ से गाडी लेकर देहरादून to बरकोट निकले वहाँ hotel में आराम करे|

2-Barkot  to  Yamunotri  की दूरी =  40  km  drive + 6 kms  by  trek  

अगर आप यमुनोत्री जाना चाहते है तो आपको इसके लिए सुबह निकलना पड़ेगा पहले आप Hanumaan Chatti और Fool Chatti होते हुए Janki Chatti के लिए निकले |अब आपको 7 kms का trek करना पड़ेगा वहाँ आपको गर्म कुंड में स्नान करके Yamunotroi जी का दर्शन करने को मिलेगा दर्शन करने  बाद आपको ट्रेक करके जानकी चट्टी जाना है |वापस होते हुए बरकोट जाकर होटल में रुकना है |

3-Barkot  to Uttarkashi की दूरी =80km (4 hours )

अब Uttarkashi के लिए सुबह निकलना है तो Barkot से Uttarkashi की दूरी 80 km है  |Uttarkashi जिला ,Uttarkhand में भागीरथी नदी के किनारे है |यहाँ ही Kashi Vishvanath का मंदिर है जहाँ आप दर्शन कर सकते है और फिर आपको उत्तरकाशी में ही होटल में ठहरना है|

4-Uttarkashi to Gangotri  की दूरी =100 km (4 hours)

सुबह उठकर आप Gangotri के लिए निकले और वह पहुँचकर गंगा नदी में स्नान करके Ganga दर्शन करिये गंगा के स्त्रोत भागीरथी पर घूमने जा सकते है| वहाँ के शान्त वातावरण को महसूस कर सकते है |शाम को Uttarkashi के लिए निकलिए और वहाँ होटल लेकर आराम करे |

5-Uttarkashi to  Rudraprayag की दूरी =180km (7 -8 hours )

रुद्रप्रयाग निकले के लिए आपको सुबह उठना होगा और उत्तरकाशी से 7 -8 घंटे का फासला तय करना पड़ेगा रुद्रप्रयाग जिला उत्तराखंड राज्य में है  |इस जगह को पंच प्रयाग भी बोलते है |यहाँ पर Vishnuprayag, Nandaprayag, Karnaprayag, Rudraprayag and Devprayag है| इस जगह को गंगा जी का birth place भी बोलते है क्योकि ये दो नदियों जैसे Alaknanda और Mandakini के मिलने से इसका उद्गम हुआ है| Rudraprayag sangam आप Visit kar सकते है और Koteshwar temple ,HARIYALI devi टेम्पल में भी दर्शण kar sakte hai

6-Rudraprayag to Kedarnath  की दूरी =50km  drive 

आप रुद्रप्रयाग से निकलकर 1 घंटे में केदारनाथ पहुंचेंगे केदारनाथ धाम मन्दाकिनी नदी के किनारे बसा हुआ है केदारनाथ में घूमने के लिए PLACE है |
1 -Gandhi Sarovar – केदारनाथ मंदिर से TREK 4 KM का करके 3 घण्टे में कर सकते है |
2 -Phata -Phata केदारनाथ मंदिर से 32 KM की दूरी पर बना एक गाँव है| जहाँ पर केदारनाथ धाम के लिए हेलिपैड बनाया गया है |
3 -Sonprayag -ये जगह गुप्तकाशिओ और गौरीकुंड के बीच में है जो की केदानाथ से 20 KM यानी 30 MIN लगता है|

4-Gaurikund Temple– ये पर्वती देवी का मंदिर है जो की गौरीकुंड बस स्टैंड से 0.2 KM है |
5-Gaurikund – गौरीकुंड के लिए आपको 16 KM का TREK केदारनाथ धाम से करना होगा |
6-Vasuki Taal Lek – ये LEK 8 KM केदारनाथ धाम से है |
7-Sankaracharya samadhi -ये समाधी केदारनाथ मंदिर के पीछे गौरीकुंड से 16 KM TREK पर है |
8-Kedarnath helipad -Kedarnath मंदिर से 700 METER की दूरी पर है |
9-Bhairav temple– यह मंदिर केदारनाथ मंदिर से पहाड़ी पर 8०० मीटर TREK है
10- Kedarnath Temple – यह मंदिर गौरीकुंड से 16 KM ऊपरी पहाड़ी पर है|

7-Rudraprayag to Badrinath की दूरी =160 km (6 -7 hours )

Chardham Yatra में badrinath dham एक महत्वपूर्ण पवित्र जगह है आपको सुबह जल्दी उठना होगा क्योकि रास्ता काफी LONG है लगभग 6 -7 घंटे 160KM की दूरी तय करने में जाते है यहाँ घूमने वाली जगहे है
1-bheem pul -भीमपुल तिब्बत के बॉर्डर पर बसा LAST विलेज माना में है | यह बद्रीनाथ से 3KM की दूरी पर सरस्वती नदी के ऊपर बना है | यह जाने में ३० MIN लग सकते है
2-joshi math  -जोशीमठ बद्रीनाथ धाम का एंट्री पॉइंट है बद्रीनाथ मंदिर ,जोशीमठ से 43 KM की दूरी पर है ये दूरी पूरी करने में लगभग २ घंटे लगते है
3-Taptkunda– तप्तकुण्ड अलकनंदा नदी के तट पर बद्रीनाथ मंदिर के किनारे बसा हुआ है लोग यहाँ पर नहाते है और फिर श्री बद्रीनाथ जी का दर्शन करते है ये तप्तकुण्ड बद्रीनाथ के लिए वरदान है
4-Neelkanth peak -इस पहाड़ी की height 6597 मीटर है यह पर आप first sunshine देख सकते है इसका colour change होता है नीलकंठ पीक ,बद्रीनाथ मंदिर से ८. ५ km है
5-Mana village -यह गांव इंडिया बॉर्डर पर last विलेज है जो की बद्रीनाथ टेम्पल से 3km की दूरी पर है यहाँ पर आप बहुत से restaurants है जहा आप breakfast , dinner कर सकते है यहाँ पर लोग ठण्ड के दिनों में जोशी मठ की ओर चले जाते है

6-Rishi Vyas gufa -यह पर माना गांव में दो गुफाये है | व्यास गुफा और गणेश गुफा |

 

8-Badrinath to Rishikesh की  दूरी = 297  km (10 -11 hours )

बद्रीनाथ धाम से की दूरी 297 km है वहाँ से लौटने में 10  घंटे लगते है|

CHARDHAM YATRA BY HLICOPTER:-

आपका Char dham yatra 2019 Article स्वागत है  | आप Chardham Yatra by helicopter कर सकते है | चारधाम यात्रा २०१९ में हेलीकाप्टर से जाने का विशेष प्रबंध है |चारधाम यात्रा Helicopter करने में 5 दिन लगता है |आप CHARDHAM YATRA PACKAGE FROM HARIDWAR ले सकते है |
Day1 -Dehradun
सबसे पहले आप dehradun airport पहुंचेंगे वहाँ से आपको होटेल के लिए भेज दिया जायेगा |
Day -२ dehradun to yamunotri
दूसरे दिन आपकी यात्रा चारधाम की यात्रा sahastradhara helipad से सुरु होगी यहाँ पर आपको tour गाइड मिलेंगे और breif करेंगे |
चारधाम की यात्रा helicopter से सुबह 7 बजे निकलेंगे और 45 min में Kharsali में उतरेगी ये Yamunotri helipad है फिर आपको अपने बैग के साथ होटल में भेजा जायेगा वहाँ पर आप फ्रेश होंगे और breakfast करेंगे इसके बाद आपको पालकी में 6km का trek है वहाँ पर आप Yamunotri Dham में दर्शन करेंगे फिर वापस आकर होटल में रुकेंगे
Day -3 Yamunotri to Gangotri
अगली सुबह तीसरे दिन नाश्ता करने के बाद kharsali हेलीपेड पर पहुंचेंगे फिर वहां से Gangotri Dham की दूरी 22 km है वह पर पहुंच कर गंगोत्री धाम में दर्शन करेंगे शाम को गंगोत्री वैली में bornfire का enjoy करेंगे
Day -4 Gangotri to Kedarnath
चौथे दिन में आप harsil helipad से sarsi helipad क लये रवाना होंगे वहाँ से आपको helicopter change करना होगा यहाँ से केदारनाथ धाम 500 m दूरी पर है दर्शन करने के बाद आपको हेलीकाप्टर से गुप्तकाशी के लिए भेज दिया जायेगा

Day -5 Kedarnath to Badrinath
इस दिन आपको Chardham yatra by helicopter ,Sersi helipad से Badrinath धाम के लिए निकलेंगे | Badrinath Dham 3100 m की ऊंचाई पर है | यहाँ पर आप badrinath dham का दर्शन कर सकते है फिर वहाँ से लौटकर Hotel में जायेंगे |

Day -6Return to Dehradun
Last दिन सुबह नास्ता करने के बाद आपको 11 बजे Badrinath Dham हेलिपैड से रवाना किया जायेगा |

 

 

 ABOUT CHAR DHAM  YATRA :-

आपका Char dham yatra 2019 Article स्वागत है |

1-यमुनोत्री

 2-गंगोत्री

 3-केदारनाथ

 4-बद्रीनाथ

 

Yamunotri Dham:-

पुराणों में यमुना सूर्य-पुत्री कही गयी हैं |मंदिर प्रांगण में एक विशाल शिला स्तम्भ है जिसे दिव्यशिला  से जाना जाता है। Yamunotri dham परिशर 3235 मी. उँचाई पर स्थित है। Yamunotri dham में भी मई से अक्टूबर तक श्रद्धालुओं का अपार समूह हरवक्त देखा जाता है। शीतकाल में यह स्थान पूर्णरूप से हिमाछादित रहता है। मोटर मार्ग का अंतिम विदुं हनुमान चट्टी है जिसकी ऋषिकेश से कुल दूरी 200 कि. मी. के आसपास है। आप इसे chardham yatra by helicopter से कर सकते है |Yamunotri dham के लिए CHARDHAM YATRA PACKAGE FROM HARIDWAR best रहेगा| हनुमान चट्टी से मंदिर तक 14 कि. मी. पैदल ही चलना होता था किन्तु अब हलके वाहनों से जानकीचट्टी तक पहुँचा जा सकता है जहाँ से मंदिर मात्र 5 कि. मी. दूर रह जाता है।Yamunotri dham का पहाड़ी शैली में बना  मनमोहक मंदिर है और मंदिर के पास ही खौलते पानी का स्रोत है जो तीर्थ यात्रियों के आकर्षण का केंद्र है |दिल्ली से देहरदून  दूरी  254 km बस यात्रा  से है और  देहरादून से  Yamunotri dham  171 km है | आप आगे कुछ दूर चलकर यमुनोत्री पहुँच जायेंगे |Yamunotri dham  में घूमने की बहुत सी जगहे है|

1-यमनोत्री मंदिर

2- बड़कोट

3- सूर्यकुण्ड

4- दिव्यशिला

5- खरसाली

6- हनुमान चट्टी 

7- जानकीचट्टी 

8- सप्तऋषिकुंड

9- दिव्यशिला

Gangotri Dham:-

चारधाम का दूसरा पड़ाव Gangotri dham है | यमुना जी के दर्शन के बाद भक्त गंगोत्री में Gangotri dham के दर्शन के लिए  निकलते है | यमुनोत्री से Gangotri dham दूरी 221 km है| गोमुख ग्लेशियर यहाँ से 18 km की दूरी पर है |हर वर्ष श्रद्धालु मई से अक्टूबर के बीच गंगा मैया के दर्शन के लिए आते है और दीपावली  के दिन मंदिर के द्धार  बंद  जाते है | हिन्दुवो के लिए यह मंदिर आध्यात्मिक प्रेरणा का स्रोत रहा है  |आप इसे chardham yatra by helicopter से कर सकते है |Gangotri dham जाने के लिए Chardham yatra package  from  haridwar के लिए best रहेगा  |  गर्मी के दिनों में Gangotri dham का मौसम सुहावना हो जाता है और रात में ठण्ड हो जाता है|  गर्मी के दिनों में तापमान  कम से कम  20  degree सेल्सियस और रात  में 6 तक पहुंच जाता है  और यही बात करें ठंडियों में यहाँ का तापमान शून्य से कम हो जाता है | पहाड़िया बर्फ से ढक जाती है |  Gangotri dham में घूमने के लिए  वाली जगहें  है|

1 -पूजा के लिए :- गंगोत्री मंदिर  और जलमग्न  शिवलिंग ,

2 -झरने के लिए :-गौरी कुंड और सूर्य कुंड ,

3 -गुफा के लिए :-पांडव गुफा 

 

Kedarnath yatra:-

आपका char dham yatra 2019 Article में  स्वागत है  |kedarnath yatra, चार धामों में से एक धाम है|  kedarnath dham हिमालय पर्वत की गोद में  बर्फ से  ढका हुआ  रुद्रप्रयाग जिले के उत्तराखंड राज्य में स्थित है | kedarnath yatra अप्रैल से नवंबर के बीच खुलता है आदिगुरु शंकराचार्य ने इसकी स्थापना की थी |आप इसे chardham yatra by helicopter से kedarnath dham की यात्रा कर सकते है | kedarnath dham में भगवान् विष्णु के अवतार नर  नारायण ने यहाँ शिव जी की पूजा आराधना की थी जिससे प्रसन्न होकर शिव जी ने वह वास करने का वरदान दिए था | 2013  में  kedarnath dham में  बाढ़ आने  कारण सबसे अधिक  प्रभावित हुआ है|

kedarnath yatra में घूमने वाली चार जगहे :-

1-पहाड़ियाँ -केदारनाथ माउंटेन ,केदार डॉम ,केदार्थ पीक ,खर्च कुंड, मायली पास

2- मंदिर – भैरवनाथ मंदिर ,अगस्त्य मुनि ,मद्महेश्वर मंदिर

3-  धार्मिक स्थान – त्रियुगीनारायण , गुप्तकाशी ,गौरीकुंड

4- दर्शनीय स्थल -सोनप्रयाग ,राम्बरा ,उखीमठ

5-  झील –चोरबारी

 

Badrinath Yatra :-

Badrinath yatra चारो धामों में से एक  है और यह उत्तराखंड के चमोली जनपद में अलकनन्दा नदी के तट पर स्थित एक हिन्दू मंदिर है। यह मंदिर विष्णु जी से सम्बंधित है  इस मंदिर के नाम के कारण ही आस पास बसे नगर को भी Badrinath dham ही कहा जाता है। । Badrinath Yatra वर्ष के 6 महीने (अप्रैल के अंत से लेकर नवम्बर की शुरुआत तक ) ही  खुला रहता है। आप इसे chardham yatra by helicopter से कर सकते है |Badrinath yatra में आयोजित सबसे प्रमुख पर्व माता मूर्ति का मेला है जो माँ पृथ्वी पर गंगा नदी के आगमन की ख़ुशी में मनाया जाता है।

Badrinath yatra में  घूमने वाली जगहे :-

तप्त कुंड ,नारद कुंड, ब्रह्मा कपाल ,शेसनेत्रा ,चरणपादुका ,नीलकंठ ,माता मूर्ति मंदिर ,वसुधरा ,नीलकंठ पर्वत

 

 

 

 

 

Previous Post
Next Post

Posted by- Team Edu1

अब आप Education Masters Andriod App भी डाउनलोड कर सकते हैं डाउनलोड करने के लिए लिंक पर क्लिक करें Click Here for Download

दोस्तों अगर आपको किसी भी प्रकार का सवाल है या eBook की आपको आवश्यकता है तो आप निचे comment कर सकते है. आपको किसी परीक्षा की जानकारी चाहिए या किसी भी प्रकार का हेल्प चाहिए तो आप comment में हमे बता सकते हैं हम आपको जल्दी ही reply कर देंगे। अगर आपको हमारा article पसंद आया हो तो अपने दोस्तों के साथ share करना न भूलें करे.

आप हमारे फेसबुक पेज Facebook page से भी जुड़ सकते है जिसके माध्यम से आपको Daily updates आपके फेसबुक पर मिलते रहेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

error: Bhai Bhut Mehnat lagi hai?