भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस अधिवेशन और इसका इतिहास

bhartiya-rashtriya-congress-adhivation

भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस अधिवेशन

कांग्रेस अधिवेशन भारतीयों के सबसे बड़े राजनीतिक दल ‘भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस’ द्वारा समय-समय पर आयोजित किये गए थे। भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस की स्थापना 28 दिसम्बर, 1885 में की गई थी। इसका पहला अधिवेशन मुम्बई में ‘कलकत्ता हाईकोर्ट’ के बैरिस्टर व्योमेशचन्द्र बनर्जी की अध्यक्षता में हुआ था। भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस के 1885 से प्रारम्भ होने वाले और 1947 तक के अधिवेशन इस प्रकार हैं, जिससे उसका राष्ट्रीय एवं अखिल भारतीय रूप प्रकट होता है।

 

अधिवेशन वर्ष स्थान अध्यक्ष विशेष
पहला 1885 बंबई व्योमेशचंद्र बनर्जी 72 प्रतिनिधियों ने भाग लिया
दूसरा 1886 कलकत्ता दादाभाई नैरोजी
तीसरा 1887 मद्रास बदरुद्दीन तैय्यबजी प्रथम मुस्लिम अध्यक्ष
चौथा 1888 इलाहबाद जॉर्ज यूल प्रथम अंग्रेज अध्यक्ष
पांचवा 1889 बम्बई सर विलियम वेडरबर्न
छठा 1890 कलकत्ता सर फिरोजशाह मेहता
सातवाँ 1891 नागपुर पी. आनंद चार्लू
आठवां 1892 इलाहाबाद व्योमेशचंद्र बनर्जी
नौवां 1893 लाहौर दादाभाई नैरोजी
दसवां 1894 मद्रास अल्फ्रेड वेब
ग्यारवाँ 1895 पूना सुरेन्द्रनाथ बनर्जी
बारहवाँ 1896 कलकत्ता रहीमतुल्ला सयानी पहली बार वन्दे मातरम गाया गया
तेरहवां 1897 अमरावती सी. शंकरन नायर
चौदहवां 1898 मद्रास आनंदमोहन दास
पन्द्रवां 1899 लखनऊ रमेशचंद्र दत्त
सोलवां 1900 लाहौर एन. जी. चंद्रावरकर
सत्रहवां 1901 कलकत्ता दिनशा इदुलजी वाचा
अठराहवां 1902 अहमदाबाद सुरेन्द्रनाथ बनर्जी
उन्नीसवां 1903 मद्रास लालमोहन घोष
बीसवां 1904 बम्बई सर हेनरी काटन
इक्कीसवां 1905 बनारस गोपाल कृष्ण गोखले
बाइसवां 1906 कलकत्ता दादाभाई नैरोजी पहली बार ‘स्वदेश’ शब्द का प्रयोग
तेहिसवाँ 1907 सूरत डॉ रासबिहारी घोष कांग्रेस का प्रथम विभाजन
चौबीसवां 1908 मद्रास डॉ रासबिहारी घोष कांग्रेस संविधान का निर्माण
पच्चीसवां 1909 लाहौर पं. मदनमोहन मालवीय
छब्बीसवां 1910 इलाहाबाद सर विलियम वेडरबर्न
सत्ताइसवां 1911 कलकत्ता पं. मदनमोहन मालवीय
अटठाइसवां 1912 बांकीपुर विलियम वेडरबर्न
उन्नतीसवां 1913 कराची पं. बिशननारायण धर पहली बार जन गण मन गाया गया
तीसवां 1914 मद्रास आर. एन. मधोलकर
इकतीसवां 1915 बम्बई सर सत्येन्द्र प्रसन्न सिन्हा लार्ड वेलिंग्टन ने भाग लिया
बत्तीसवां 1916 लखनऊ अम्बिकचरण मजूमदार मुस्लिम लीग से समझौता
तैतीसवां 1917 कलकत्ता श्रीमती एनी बेसेंट प्रथम महिला अध्यक्ष
विशेष अधिवेशन 1918 बम्बई हसन इमाम कांग्रेस का दूसरा विभाजन
चौतीसवां 1918 दिल्ली पं.मदनमोहन मालवीय
पैतीसवां 1919 अमृतसर पं.मोतीलाल नेहरु
छत्तीसवां 1920 नागपुर सी.वी.राधवाचारियर कांग्रेस सविंधान में परिवर्तन
विशेष अधिवेशन 1920 कलकत्ता लाला लाजपत राय
सैतीसवां 1921 अहमदाबाद हकीम अजमल खां
अडतीसवां 1922 गया देशबंधु चितरंजन दास
उनतालीसवां 1923 काकीनाडा मौलाना मोहम्मद अली
विशेष अधिवेशन 1923 दिल्ली अबुल कलाम आज़ाद सबसे युवा अध्यक्ष
चालीसवां 1924 बेलगाम महात्मा गाँधी
इकतालीसवां 1925 कानपूर श्रीमती सरोजिनी नायडू प्रथम भारतीय महिला अध्यक्ष
बयालीसवां 1926 गुवाहटी एस.श्रीनिवासन आयगार सदस्यों हेतु खादी वस्त्र अनिवार्य
तेतालीसवां 1927 मद्रास डॉ  एम.ए.अंसारी पूर्ण स्वाधीनता की मांग
चौवालिसवां 1928 कलकत्ता पं.मोतीलाल नेहरु
पैतालीसवां 1929 लाहौर पं. जवाहर लाल नेहरु पूर्ण स्वराज्य की मांग
छियालीसवां 1931 कराची स.वल्लभ भाई पटेल मौलिक अधिकार की मांग
सैतालिसवां 1932 दिल्ली अमृत रणछोड़ दास सेठ
अडतालीसवां 1933 कलकत्ता श्रीमती नेल्ली सेनगुप्ता
उनचासवां 1934 बम्बई डॉ राजेंद्र प्रसाद
पचासवां 1936 लखनऊ पं. जवाहर लाल नेहरु
इक्यावनवां 1937 फैजपुर पं. जवाहर लाल नेहरु गाँव में आयोजित प्रथम अधिवेशन
बावनवां 1938 हरिपुरा सुभाष चन्द्र बोस
त्रिपनवां 1939 त्रिपुरी सुभाष चन्द्र बोस
चौवनवां 1940 रामगढ अबुल कलाम आज़ाद
पचपनवाँ 1946 मेरठ आचार्य जे. बी. कृपलानी आज़ादी के समय अध्यक्ष
छप्पनवां 1948 जयपुर बी. पट्टाभि सीतारमय्या
सत्तावनवां 1950 नासिक पुरषोंत्तम दास टंडन

 

नोट : डॉ राजेंद्र प्रसाद 1947 ई. में दिल्ली में हुई विशेष अधिवेशन के अध्यक्ष थे I

8341 Total Views 21 Views Today
Previous Post
Next Post

Posted by- Roopali Thapliyal


One Response to भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस अधिवेशन और इसका इतिहास

  1. Ravi Raj says:

    कांग्रेस अधिवेशन pdf and mp3

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close