{Uttarkhand GK In Hindi}: Major Festivals Of Uttarakhand

0
13
festivals

देश के  अन्य राज्यों की तरह उत्तराखंड में भी होली दीपावली, दशहरा आदि Festival मनाए जाते हैं, लेकिन उत्तराखंड के कुछ प्रमुख Festival हैं जिसे वहां के लोग बड़ी Gusto से मनाते हैं।देव भूमि कहा जाने वाला उत्तराखण्ड जहां अपने Pilgrimage sites के कारण दुनिया भर में Famousहै वहीं यहां की culture में जितनी Diversityदिखाई देती है, शायद कहीं और नहीं है. उत्तराखण्ड को देश में सबसे ज्यादा Public holiday वाला state  भी कहा जाता है. इन्हीं में से एक है हरेला.खास बात है कि कोई भी Festival  साल में जहां एक बार आता है, वहीं हरेला के साथ ऐसा नहीं है. देवभूमि से जुड़े कुछ लोगों के यहां ये पर्व चैत्र, श्रावण और आषाढ़ के शुरू होने पर यानी वर्ष में three times मनाया जाता है, तो कहीं Once इनमें सबसे अधिक Importance श्रावण के पहले दिन पड़ने वाले हरेले पर्व का होता है, क्योंकि ये सावन की हरियाली से Well होता है|

Jyotishcharya Ganesh Dutt Tripathi ने IPN को बताया कि देवभूमि में भगवान शंकर का घर हिमालय और ससुराल हरिद्वार दोनों होने के कारण उनकी special पूजा अर्चना होती है और ऐसे में सावन के मास का हरैला आता है तो इस दिन शिव-परिवार की मूर्तियां भी Cottage जाती हैं, जिन्हें डिकारे कहा जाता है. शुद्ध मिट्टी की Shapes natural रंगों से शिव-परिवार की Statues का आकार दिया जाता है और इस दिन उनकी पूजा की जाती है

हरेला

हरेला उत्तराखंड का एक Major festivals है जो श्रावण मास के first day मनाया जाता है , इससे 10 दिन पहले एक बर्तन में 5  या 7 प्रकार के बीज बोये जाते है तथा हरेले के दिन इसे काटकर देवताओ को चढ़ाया जाता है

फूलदेई (फूल संक्रांति)

फूलदेई चैत मास के first day मनाई जाती है इस दिन बच्चे घर-घर जाकर घरो की देहली पर फूल चढाते है

बिखोती

उत्तराखंड में विषुवत संक्रांति को बिखोती के नाम से जाना जाता है जो बैशाख माह केfirst day मनाई जाती है

घी संक्रांति (ओगलिया)

घी संक्रांति Mid-September में पड़ता है इस दिन सर में घी लगाया जाता है

मकर संक्रांति (घुघुतिया)

मकर संक्रांति माघ माह के first day मनाई जाती है

खतडुवा

यह त्यौहार कुमाऊं क्षेत्र में अश्विन माह केfirst day मनाया जाता है , यह Festival animals से सम्बंधित है

रक्षा बंधन

उत्तराखंड में रक्षा बंधन को Jano-Punyo के नाम से भी जाना जाता है यह त्यौहार श्रावण माह की पूर्णिमा को मनाया जाता है

चैंतोल

यह त्यौहारMainly पिथोरागढ़ district में चैत माह में मनाया जाता है

जागड़ा

यह त्यौहार महासू देवता से सम्बंधित है

भिरौली

यह त्यौहार संतान कल्याण के लिए मनाया जाता है

नुणाई

यह त्यौहारJahasar of Dehradun in Babar area में  श्रावण मास में मनाया जाता है

 

other related links:

  1. Environment GK Question and Answer in Hindi || GK in Hindi
  2. Top 50 General Science and Technology GK Question Answers
  3. Most Important English Vocabulary for SSC-CGL, MTS, IBPS Exam 2018

 

 

Previous Post
Next Post

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.